आईपीयू में पांच दिवसीय कार्यक्रम इंटरनेट ऑफ थिंगस का आयोजन

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। गुरू गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी (आईपीयू) के यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ इंफॉर्मेशन कम्यूनिकेशन एंड टेक्नोलॉजी ने 27 सितंबर से 1 अक्तूबर तक इंटरनेट ऑफ थिंगस पर पांच दिवसीय ऑनलाइन एआईसीटीई ट्रेनिंग एंड लर्निंग एफडीपी का आयोजन किया। इसका उद्घाटन डीटीयू के कुलपति और डीयू के नामित वीसी प्रो. योगेश सिंह ने किया। 
संस्कृति मंत्रालय ने किया शुरू बुजुर्गों की बात देश के साथ

आने वाले समय में होंगी नवीनतम तकनीक गेम चेंजर : प्रो. योगेश सिंह

इस अवसर पर प्रो. योगेश सिंह ने कहा कि नवीनतम तकनीक जैसे आईओटी, मशीन लर्निंग, बिग डेटा आदि आने वाले समय में गेम चेंजर साबित होंगे। वहीं मुख्य वक्ता आईआईटी बॉम्बे के प्रो. वीरेंद्र सिंह ने बताया कि समाज 5.0 और उद्योग 4.0 के साथ प्रौद्योगिकी कैसे विकसित हुई है। उन्होंने प्रतिभागियों को इंटरनेट ऑफ थिंगस और स्मार्ट वल्र्ड, स्मार्ट सिटी, स्मार्ट ट्रांसपोर्ट, स्मार्ट चीजें आदि बनाने में इसके महत्व से परिचित करवाया। उन्होंने पहनने के उपकरणों पर ध्यान केंद्रित किया और प्रतिभागियों को विभिन्न प्रकार के सेंसर के साथ ही साथ आइओटी को लागू करने में आने वाली चुनौतियों के बारे में बताया। वहीं डीन ऑफ स्कूल प्रो. प्रवीण चंद्रा ने शोध के क्षेत्र में इंटरनेट ऑफ थिंगस के महत्व पर प्रकाश डाला।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।