एथिकल हैकर बनकर दे सकते हैं करियर को ऊंची उड़ान, पटना में शुरू हो गया 600 घंटों का यह कोर्स, जानिए Eligibility और Career : Career

Career in Ethical Hacking : आज का जमाना डिजिटल का हो चुका हैं. अब एक मोबाइल से ही पूरी दुनिया हाथों में समा जा रही हैं. यह पूरी प्रक्रिया जितना आसान हुआ हैं,

उतना ही आज सावधानी की जरूरत हैं. वर्तमान में हो रहे तरह-तरह के साइबर वार की वजह से एक पल में हमारी पूरी सूचनाएं लीक हो जा रहा हैं.

चाहे बैंक खाते से राशि गायब होना हो या फिर इंटरनेट मीडिया का हैक हो जाना. नए दौर की इस नई समस्‍याओं का इलाज है Ethical Hacking.

आप अक्‍सर फिल्‍मों, टीवी सीरियलों में पुलिस को देखते होंगे कि वे एक Cyber Expert के जरिए किसी अपराधी तक पहुंचने की कोशिश करते हैं.

सभी लेटेस्ट सरकारी नौकरी बिहार नोटिफिकेशन से अपडेटेड रहने के लिए इन ग्रुपों को अभी जॉइन करें.

ऐसे लोगों की जरूरत केवल पुलिस को ही नहीं पड़ती, बल्कि कई बड़ी कंपनियां अपनी सुरक्षा के लिए उन्‍हें हायर करती हैं. Ethical Hackers के पास स्‍वरोजगार के लिए भी काफी संभावनाएं हैं.

600 घंटे का है पूरा कोर्स

खास बात यह हैं कि इसके लिए जरूरी कोर्स आप पटना में ही केंद्र सरकार के संस्‍थान से ही कर सकते हैं. केंद्र सरकार के प्रमुख संस्थान C-DAC (Center for Development of Advanced Computing) की ओर से इस महीने

विभिन्न स्कूल, कालेज, प्रबंधन संस्थान, IIT, NIT संस्थानों में साइबर सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया जाएगा. C-DAC की ओर

से 600 घंटे का Ethical Hacking का कोर्स भी तैयार किया गया हैं. इस कोर्स का नामाकरण Diploma in Ethical Hacking and Cyber ​​Security किया गया है.

40 घंटे का प्रोजेक्‍ट वर्क भी होगा शामिल

C-DAC पटना के निदेशक आदित्य कुमार सिन्हा ने बताया कि इस कोर्स में साइबर सुरक्षा, आइओटी सिक्योरिटी, ब्राउज सिक्योरिटी, एथिकल हैकिंग, वीएपीटी के बारे में बताया जाएगा.

इसके अलावें 40 घंटे की प्रोजेक्ट वर्क भी होंगे. इस पाठ्यक्रम में सफल छात्रों को प्लेसमेंट आफर भी किया जाएगा. इस कोर्स के बाद अभ्यर्थी नेटवर्क सिक्योरिटी प्रोफेसनल, वेब सिक्योरिटी टेस्टर,

सिक्योरिटी एनालिस्ट, सिक्योरिटी इंजीनियर और पैन टेस्टर बन सकते हैं. इस कोर्स के लिए किसी भी संकाय से स्नातक 55 फीसद से पास अभ्यर्थियों को इंट्रेंस टेस्ट में सफल होने के बाद नामांकन किया जाएगा.