‘बच्चों के लिए कोविड वैक्सीन को लेकर जायडस के साथ अंतिम दौर में बातचीत, केंद्र को सकारात्मक परिणाम की उम्मीद’ | Centre in final talks with Zydus Cadila for Covid vaccine for kids says Karnataka Health Minister K Sudhakar

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर (फोटो- Dr Sudhakar K/Twitter)

कर्नाटक में वैक्सीनेशन की स्थिति को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में 80 फीसदी योग्य आबादी (4.98 करोड़ लोग) को पहली डोज लगाई जा चुकी है, वहीं 37 फीसदी लोगों को दोनों डोज दी गई है.

TV9 Hindi

  • TV9 Hindi
  • Publish Date – 6:23 pm, Sun, 3 October 21Edited By: साकेत आनंद
    Follow us – google news

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर (K Sudhakar) ने रविवार को कहा कि बच्चों के लिए कोविड-19 वैक्सीन उपलब्ध कराने के लिए जायडस कैडिला के साथ जारी अंतिम दौर की बातचीत के नतीजे को लेकर केंद्र सरकार को सकारात्मक उम्मीदें हैं. के सुधाकर ने रविवार को दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया के साथ मुलाकात के बाद यह टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि भारत बायोटेक द्वारा डेवलप की गई नेजल वैक्सीन का दूसरा क्लीनिकल ट्रायल पूरा हो गया है और तीसरे चरण के ट्रायल की नवंबर-दिसंबर में होने की उम्मीद है.

के सुधाकर और मनसुख मंडाविया के साथ ब्रेकफास्ट मीटिंग के दौरान भारत बायोटेक अध्यक्ष और मैनेजिंग डायरेक्टर कृष्णा एला भी मौजूद थे. मीटिंग में सुधाकर ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से अनुरोध किया कि केंद्र सरकार नेशनल हेल्थ मिशन के तहत कर्नाटक में 250 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को अपग्रेड करने में मदद करे.

मीटिंग के बाद मीडिया से बातचीत में सुधाकर ने कहा, “बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के साथ मेरी विस्तृत बातचीत हुई. उन्होंने (मंडाविया) बताया कि सरकार जायडस के साथ उसकी बच्चों के लिए कोविड-19 वैक्सीन को लेकर अंतिम दौर की चर्चा कर रही है. उन्होंने कहा कि वह जल्द ही सकारात्मक परिणाम की उम्मीद कर रहे हैं.” उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री ने भारत बायोटेक के प्रमुख से नेजल वैक्सीन की स्थिति के बारे में भी बात की.

सुधाकर ने कहा, “यह बताया गया कि इस वैक्सीन का दूसरा क्लीनिकल ट्रायल पूरा हो चुका है और तीसरा क्लीनिकल ट्रायल नवंबर-दिसंबर के अंत तक समाप्त हो जाएगा.” एला ने कहा कि कंपनी के पास एक महीने में वैक्सीन की 20 करोड़ डोज बनाने की क्षमता है.

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को किया जाएगा अपग्रेड- सुधाकर

उन्होंने कहा कि राज्य में 2,500 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हैं. राज्य सरकार ने मौजूदा वित्तीय वर्ष में 250 पीएचसी को अपग्रेड करने के लिए एक अलग बजट रखा है और वह चाहती है कि केंद्र सरकार इस साल 250 पीएचसी को अपग्रेड करने का खर्च उठाए. सुधाकर ने कहा, “हर पीएचसी पर करीब 5-7 करोड़ रुपए खर्च होंगे, जिसके तहत सुविधाओं और स्टाफ को बढ़ाया जाएगा. डॉक्टरों की संख्या एक से 3 की जाएगी, वहीं बेड की संख्या भी 6 से बढ़ाकर 12 की जाएगी.”

कर्नाटक में वैक्सीनेशन की स्थिति को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में 80 फीसदी योग्य आबादी (4.98 करोड़ लोग) को पहली डोज लगाई जा चुकी है, वहीं 37 फीसदी लोगों को दोनों डोज दी गई है. उन्होंने कहा कि सितंबर में राज्य में 1.48 करोड़ वैक्सीन की डोज लगाई गई. इस गति के साथ राज्य में दिसंबर तक सभी लोगों को वैक्सीन लगा दी जाएगी. सुधाकर ने कहा कि मनसुख मंडाविया का 9-10 अक्टूबर को कर्नाटक का दौरा करने का कार्यक्रम है और उनके कुछ कार्यक्रमों में भाग लेने की संभावना है.

ये भी पढ़ें- Bengal Bypolls Result: उपचुनाव में ममता बनर्जी की हैट्रिक, बनी रहेंगी सीएम, भवानीपुर के साथ जंगीपुर-समशेरगंज में भी जीती TMC

ये भी पढ़ें- विधानसभा उपचुनाव 2021: BJP ने महाराष्ट्र, तेलंगाना और मिजोरम के लिए उम्मीदवारों के नामों का किया ऐलान, 30 अक्टूबर को पड़ेंगे वोट