Accused Of Inciting Religious Conversion – गिरोहबंद लोगों पर भाई को लालच देकर धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने का आरोप

देवबंद में सीओ को ज्ञापन देने पहुंचे दलित समाज के लोग

देवबंद में सीओ को ज्ञापन देने पहुंचे दलित समाज के लोग
– फोटो : DEVBAND

ख़बर सुनें

देवबंद। बन्हेड़ा खास निवासी सुभाष ने गांव के कुछ लोगों पर उसके भाई को बहला फुसलाकर धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। उक्त व्यक्ति ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की गुहार लगाई।
बुधवार को ग्रामीणों को साथ लेकर बन्हेड़ा निवासी सुभाष सीओ कार्यालय पहुंचा। जहां उसने सीओ रजनीश उपाध्याय को ज्ञापन सौंपा। इसमें आरोप लगाया कि गांव के कुछ लोगों ने गिरोह बना रखा है जो हिंदू समाज के लोगों को लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कराने के प्रयास में जुटे हैं। सुभाष का आरोप है कि उक्त गिरोहबंद लोगों ने उसके भाई बीर सिंह को भी बहला फुसला लिया है। उसे भी लालच देकर धर्म परिवर्तन करने को मजबूर कर रहे हैं। उसके भाई का माइंस वाश कर दिया जो मुस्लिम धर्म अपनाने पर आमादा है। समझाने पर भी वह नहीं मान रहा है। साथ आए ग्रामीणों ने बताया इस घटना के चलते गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है। गांव का माहौल कभी भी बिगड़ सकता है, क्योंकि हिंदू समाज में इस घटना को लेकर भारी आक्रोश है।
ग्रामीणों ने मामले की उच्चस्तरीय जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। ज्ञापन की प्रतिलिपि डीजीपी व एससी एसटी आयोग को भेजी। इस दौरान देवेंद्र कुमार, ओमवीर, टिंकू, संदीप, सोनू, कल्लू, रमेश, विकास, सतपाल, मिंदर, सुखपाल, समेरी, राजू, इंदर, मिंटू, रीनू आदि रहे। वहीं, सीओ रजनीश उपाध्याय ने बताया मामले की जांच कराकर कार्रवाई होगी।
वहीं, ग्राम प्रधान राव शारिक ने बताया कि बीर सिंह द्वारा धर्म परिवर्तन करने का मामला करीब ढ़ाई-तीन साल पुराना है। हाल ही में इस मामले को लेकर दलित समाज के लोगों की हुई पंचायत में बीर सिंह ने बिना किसी दबाव के पूर्व में अपने द्वारा स्वेच्छा से धर्म परिवर्तित करने की बात स्वीकार की है। गांव का माहौल बिगड़ने नहीं दिया जाएगा।

देवबंद। बन्हेड़ा खास निवासी सुभाष ने गांव के कुछ लोगों पर उसके भाई को बहला फुसलाकर धर्म परिवर्तन के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। उक्त व्यक्ति ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की गुहार लगाई।

बुधवार को ग्रामीणों को साथ लेकर बन्हेड़ा निवासी सुभाष सीओ कार्यालय पहुंचा। जहां उसने सीओ रजनीश उपाध्याय को ज्ञापन सौंपा। इसमें आरोप लगाया कि गांव के कुछ लोगों ने गिरोह बना रखा है जो हिंदू समाज के लोगों को लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कराने के प्रयास में जुटे हैं। सुभाष का आरोप है कि उक्त गिरोहबंद लोगों ने उसके भाई बीर सिंह को भी बहला फुसला लिया है। उसे भी लालच देकर धर्म परिवर्तन करने को मजबूर कर रहे हैं। उसके भाई का माइंस वाश कर दिया जो मुस्लिम धर्म अपनाने पर आमादा है। समझाने पर भी वह नहीं मान रहा है। साथ आए ग्रामीणों ने बताया इस घटना के चलते गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है। गांव का माहौल कभी भी बिगड़ सकता है, क्योंकि हिंदू समाज में इस घटना को लेकर भारी आक्रोश है।

ग्रामीणों ने मामले की उच्चस्तरीय जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। ज्ञापन की प्रतिलिपि डीजीपी व एससी एसटी आयोग को भेजी। इस दौरान देवेंद्र कुमार, ओमवीर, टिंकू, संदीप, सोनू, कल्लू, रमेश, विकास, सतपाल, मिंदर, सुखपाल, समेरी, राजू, इंदर, मिंटू, रीनू आदि रहे। वहीं, सीओ रजनीश उपाध्याय ने बताया मामले की जांच कराकर कार्रवाई होगी।

वहीं, ग्राम प्रधान राव शारिक ने बताया कि बीर सिंह द्वारा धर्म परिवर्तन करने का मामला करीब ढ़ाई-तीन साल पुराना है। हाल ही में इस मामले को लेकर दलित समाज के लोगों की हुई पंचायत में बीर सिंह ने बिना किसी दबाव के पूर्व में अपने द्वारा स्वेच्छा से धर्म परिवर्तित करने की बात स्वीकार की है। गांव का माहौल बिगड़ने नहीं दिया जाएगा।