Brother Had Killed A B.tech Student With A Partner – फुफेरे भाई ने साथी संग मिलकर की थी बीटेक छात्र की हत्या

ख़बर सुनें

मुरादाबाद। मूंढापांडे थानाक्षेत्र में एक सप्ताह पहले हुई बीटेक छात्र सुधीर सैनी की हत्या का पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर दिया। पुलिस ने दावा किया है कि छात्र की हत्या उसके फुफेरे भाई एमटेक छात्र शुभम ने अपने साथी के साथ मिलकर की थी। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उसने पुलिस पूछताछ में कबूला है कि सुधीर अपनी सौतेली बहन को परेशान रखता था। फुफेरे भाई से बर्दाश्त नहीं हो पाया और उसने साजिश रखकर हत्या कर दी। पहचान मिटाने को बाइक से पेट्रोल निकालकर उसका चेहरा जला दिया था।
पुलिस अधीक्षक अमित आनंद ने बताया कि मूंढापांडे थानाक्षेत्र के गनेश घाट गांव के जंगल में एक सप्ताह पहले सूरज पाल के खेत में एक युवक का शव मिला था। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या किए जाने की पुष्टि हुई थी।
घटनास्थल के पास ही बरेली स्थित एएनए कालेज की लाइब्रेरी का कार्ड मिला था। जिसके जरिये मृतक की पहचान सुधीर सैनी निवासी ढकिया नरू थाना बिलारी जनपद मुरादाबाद के रूप में हुई थी। वीरेंद्र ने पुलिस को बताया कि उसका बेटा सुधीर बरेली में ही रहकर पढ़ाई कर रहा था। घटना से दो दिन पहले ही वह घर से बरेली जाने के लिए निकला था।
पुलिस अधीक्षक नगर अमित आनंद ने बताया कि पिता की तहरीर पर पांच लोगों के खिलाफ हत्या और साक्ष्य मिटाने की धाराओं में केस दर्ज किया था। पुलिस ने कॉल डिटेल और साक्ष्यों के आधार पर केस की तफ्तीश आगे बढ़ाई तो नामजद आरोपियों से अलग कहानी निकलकर सामने आई। पुलिस ने कॉल डिटेल के जरिए मझोला के शिव नगर जयंतीपुर निवासी परवेंद्र उर्फ वरविंद्र सिंह को हिरासत में ले लिया। आरोपी से पुलिस ने पूछताछ की तो बीटेक छात्र हत्याकांड में चौंकाने वाला खुलासा हुआ। आरोपी ने पुलिस को बताया कि सुधीर की हत्या की साजिश उसके फुफेरे भाई शुभम निवासी ज्वाला नगर थाना सिविल लाइंस जनपद रामपुर ने रची थी।
आरोपी ने बताया कि मेरे पिता चंद्र कुमार सैनी और शुभम के पिता प्रकाश वीर आपस में ममेरे-फुफेरे भाई हैं। रिश्तेदार होने के कारण मेरी और शुभम के बीच भी दोस्ती हो गई थी। आरोपी परविंदर ने पुलिस पूछताछ में कहा कि शुभम ने उसे बताया था कि सुधीर अपनी सौतेली बहन को बहुत परेशान करता है। आए दिन उसके साथ मारपीट करता है। जिससे सौतेली बहन परेशान है। वह अक्सर मुझसे अपने भाई की शिकायत करती है। पहले भी शुभम व सुधीर में किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। इसी रंजिश में शुभम ने साजिश रचकर हत्या की थी।
घटना वाले दिन सुधीर से बातचीत करने के बहाने शुभम ने उसे अपने पैतृक गांव गणेश घाट बुला लिया था, जहां पहले तीनों ने शराब पी थी। इसके बाद अचानक गंड़ासे से हमला कर हत्या कर दी। शराब की बोतल से भी वार किया गया था। पहचान छिपाने के उद्देश्य से आरोपियों ने बाइक से पेट्रोल निकालकर सुधीर का चेहरा जला दिया था। एसपी सिटी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी को शनिवार दोपहर अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। मुख्य आरोपी शुभम की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

मुरादाबाद। मूंढापांडे थानाक्षेत्र में एक सप्ताह पहले हुई बीटेक छात्र सुधीर सैनी की हत्या का पुलिस ने शनिवार को खुलासा कर दिया। पुलिस ने दावा किया है कि छात्र की हत्या उसके फुफेरे भाई एमटेक छात्र शुभम ने अपने साथी के साथ मिलकर की थी। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उसने पुलिस पूछताछ में कबूला है कि सुधीर अपनी सौतेली बहन को परेशान रखता था। फुफेरे भाई से बर्दाश्त नहीं हो पाया और उसने साजिश रखकर हत्या कर दी। पहचान मिटाने को बाइक से पेट्रोल निकालकर उसका चेहरा जला दिया था।

पुलिस अधीक्षक अमित आनंद ने बताया कि मूंढापांडे थानाक्षेत्र के गनेश घाट गांव के जंगल में एक सप्ताह पहले सूरज पाल के खेत में एक युवक का शव मिला था। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या किए जाने की पुष्टि हुई थी।

घटनास्थल के पास ही बरेली स्थित एएनए कालेज की लाइब्रेरी का कार्ड मिला था। जिसके जरिये मृतक की पहचान सुधीर सैनी निवासी ढकिया नरू थाना बिलारी जनपद मुरादाबाद के रूप में हुई थी। वीरेंद्र ने पुलिस को बताया कि उसका बेटा सुधीर बरेली में ही रहकर पढ़ाई कर रहा था। घटना से दो दिन पहले ही वह घर से बरेली जाने के लिए निकला था।

पुलिस अधीक्षक नगर अमित आनंद ने बताया कि पिता की तहरीर पर पांच लोगों के खिलाफ हत्या और साक्ष्य मिटाने की धाराओं में केस दर्ज किया था। पुलिस ने कॉल डिटेल और साक्ष्यों के आधार पर केस की तफ्तीश आगे बढ़ाई तो नामजद आरोपियों से अलग कहानी निकलकर सामने आई। पुलिस ने कॉल डिटेल के जरिए मझोला के शिव नगर जयंतीपुर निवासी परवेंद्र उर्फ वरविंद्र सिंह को हिरासत में ले लिया। आरोपी से पुलिस ने पूछताछ की तो बीटेक छात्र हत्याकांड में चौंकाने वाला खुलासा हुआ। आरोपी ने पुलिस को बताया कि सुधीर की हत्या की साजिश उसके फुफेरे भाई शुभम निवासी ज्वाला नगर थाना सिविल लाइंस जनपद रामपुर ने रची थी।

आरोपी ने बताया कि मेरे पिता चंद्र कुमार सैनी और शुभम के पिता प्रकाश वीर आपस में ममेरे-फुफेरे भाई हैं। रिश्तेदार होने के कारण मेरी और शुभम के बीच भी दोस्ती हो गई थी। आरोपी परविंदर ने पुलिस पूछताछ में कहा कि शुभम ने उसे बताया था कि सुधीर अपनी सौतेली बहन को बहुत परेशान करता है। आए दिन उसके साथ मारपीट करता है। जिससे सौतेली बहन परेशान है। वह अक्सर मुझसे अपने भाई की शिकायत करती है। पहले भी शुभम व सुधीर में किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। इसी रंजिश में शुभम ने साजिश रचकर हत्या की थी।

घटना वाले दिन सुधीर से बातचीत करने के बहाने शुभम ने उसे अपने पैतृक गांव गणेश घाट बुला लिया था, जहां पहले तीनों ने शराब पी थी। इसके बाद अचानक गंड़ासे से हमला कर हत्या कर दी। शराब की बोतल से भी वार किया गया था। पहचान छिपाने के उद्देश्य से आरोपियों ने बाइक से पेट्रोल निकालकर सुधीर का चेहरा जला दिया था। एसपी सिटी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी को शनिवार दोपहर अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। मुख्य आरोपी शुभम की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।