Coronavirus In Uttarakhand: Five Covid Positive Tourist From Delhi Missing From Nainital – उत्तराखंड में कोरोना: नैनीताल से पांच कोरोना संक्रमित पर्यटक ‘गायब’, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नैनीताल
Published by: अलका त्यागी
Updated Tue, 05 Oct 2021 01:30 AM IST

सार

बीते शुक्रवार को नैनीताल घूमने आए पांच लोगों ने दिल्ली में कोरोना जांच कराई थी। कोरोना जांच कराते समय उन्होंने जांच टीम को बताया था कि वह दो अक्तूबर को घूमने के लिए नैनीताल जा रहे हैं।

पर्यटकों की कोरोना जांच
– फोटो : अमर उजाला फाइल फोटो

ख़बर सुनें

वीकेंड पर नैनीताल पहुंचे हजारों सैलानियों की भीड़ में शामिल पांच सैलानियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद से स्वास्थ्य विभाग हरकत में है। हालांकि अब तक स्वास्थ्य विभाग और पुलिस इन सैलानियों को खोज नहीं सकी है।

बीते शुक्रवार को नैनीताल घूमने आए पांच लोगों ने दिल्ली में कोरोना जांच कराई थी। कोरोना जांच कराते समय उन्होंने जांच टीम को बताया था कि वह दो अक्तूबर को घूमने के लिए नैनीताल जा रहे हैं। सोमवार को इन पांचों लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दिल्ली के स्वास्थ्य महकमे ने इन लोगों के फोन नंबर पर संपर्क किया, लेकिन किसी का भी फोन नहीं मिला। दिल्ली प्रशासन ने इसकी सूचना नैनीताल में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दी। पांच सैलानियों के कोरोना संक्रमित होने की सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई।

उत्तराखंड: सरकार ने 19 अक्तूबर तक बढ़ाया कोविड कर्फ्यू, चारधाम तीर्थयात्रियों को स्मार्ट सिटी पोर्टल पर पंजीकरण में छूट

बीडी पांडे अस्पताल प्रशासन ने इसकी सूचना कोतवाली में दी। तब से स्वास्थ्य विभाग और कोतवाली पुलिस इन पांचों लोगों से संपर्क करने का प्रयास कर रही है, लेकिन देर शाम तक किसी से भी संपर्क नहीं हुआ था।

बीडी पांडे अस्पताल के पीएमएस डॉ. केएस धामी ने बताया कि संबंधित लोगों से संपर्क करने का प्रयास जारी है। कोतवाल प्रीतम सिंह ने बताया कि जांच में पता चला है कि संक्रमित एक व्यक्ति ने जांच संबंधी दस्तावेजों में खुद को काठगोदाम निवासी और शेष अन्य चार लोगों ने खुद को नैनीताल निवासी लिखवाया है। उन्होंने बताया कि पुलिस इन पांचों लोगों के बारे में जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है।

दिल्ली में कोरोना संक्रमित निकले पांचों सैलानी बीते तीन दिनों में नैनीताल के साथ कई जगह गए होंगे। इससे इस क्षेत्र में फिर से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बन गया है।

प्रदेश में 343584 संक्रमित मरीज
प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 343584 हो गई है। इनमें से 329936 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के चलते अब तक कुल 7395 लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश की रिकवरी दर 96.03 प्रतिशत और संक्रमण दर 0.14 प्रतिशत दर्ज की गई है। 

विस्तार

वीकेंड पर नैनीताल पहुंचे हजारों सैलानियों की भीड़ में शामिल पांच सैलानियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद से स्वास्थ्य विभाग हरकत में है। हालांकि अब तक स्वास्थ्य विभाग और पुलिस इन सैलानियों को खोज नहीं सकी है।

बीते शुक्रवार को नैनीताल घूमने आए पांच लोगों ने दिल्ली में कोरोना जांच कराई थी। कोरोना जांच कराते समय उन्होंने जांच टीम को बताया था कि वह दो अक्तूबर को घूमने के लिए नैनीताल जा रहे हैं। सोमवार को इन पांचों लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दिल्ली के स्वास्थ्य महकमे ने इन लोगों के फोन नंबर पर संपर्क किया, लेकिन किसी का भी फोन नहीं मिला। दिल्ली प्रशासन ने इसकी सूचना नैनीताल में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दी। पांच सैलानियों के कोरोना संक्रमित होने की सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई।

उत्तराखंड: सरकार ने 19 अक्तूबर तक बढ़ाया कोविड कर्फ्यू, चारधाम तीर्थयात्रियों को स्मार्ट सिटी पोर्टल पर पंजीकरण में छूट

बीडी पांडे अस्पताल प्रशासन ने इसकी सूचना कोतवाली में दी। तब से स्वास्थ्य विभाग और कोतवाली पुलिस इन पांचों लोगों से संपर्क करने का प्रयास कर रही है, लेकिन देर शाम तक किसी से भी संपर्क नहीं हुआ था।

बीडी पांडे अस्पताल के पीएमएस डॉ. केएस धामी ने बताया कि संबंधित लोगों से संपर्क करने का प्रयास जारी है। कोतवाल प्रीतम सिंह ने बताया कि जांच में पता चला है कि संक्रमित एक व्यक्ति ने जांच संबंधी दस्तावेजों में खुद को काठगोदाम निवासी और शेष अन्य चार लोगों ने खुद को नैनीताल निवासी लिखवाया है। उन्होंने बताया कि पुलिस इन पांचों लोगों के बारे में जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है।

आगे पढ़ें

नैनीताल और आसपास फिर बढ़ा कोरोना का खतरा