Covid antiviral pill cuts risk of hospitalisation deaths by half claims us firm merck and ridgeback biotherapeutics

नई दिल्ली : कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में अपना कहर बरपाया है. लाखों की संख्या में अब तक इस वायरस (Coronavirus) से लोगों की मौत हो चुकी है. दुनिया भर के वैज्ञानिक कोरोना वायरस से जीतने के लिए लगातार वैक्सीन(Covid-19 Vaccine) और दवाइयों की खोज में लगे हुए हैं. भारत समेत कई देशों ने कोरोना रोधी टीके का निर्माण कर लिया है लेकिन अब भी नई नई वैक्सीन पर रिसर्च जारी है. इस बीच एक ऐसी कोविड एंटीवायरल गोली पाई गई है जिससे कोरोना मरीजों के अस्पताल में भर्ती होने का खतरा 50 प्रतिशत तक कम होने का दावा किया जा रहा है.

कोरोना के खतरे को कम करने वाली इस दवा का नाम मोल्नुपिरवीर बताया जा रहा है. इसे अमेरिकी फर्म मर्क एंड रिजबैक बायोथेरेप्यूटिक्स द्वारा बनाया गया है. द हिल की खबर के अनुसार गोली डेल्टा संक्रमण समेत कोरोना वायरल के सभी संस्करण के खिलाफ बेहद असरदार है.

इस मेडिसिन को लेकर कंपनी ने कहा है इसके सभी परक्षणों के बाद परिणामों के आधार पर कंपनी ने कहा कि वह परीक्षण के परिणामों के आधार पर जल्द से जल्द यूनाइटेड स्टेट्स फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) को आपातकालीन के उपयोग के लिए आवदेन करेंगे. कंपनी ने कहा कि यदि अनुमति मिल जाती है तो मोलनुपिरवीर पहली कोविड -19 के खिलाफ पहली ऐसी दवा होगी जिसे ओरल तौर दिया जाएगा.

मर्क की इस दवा का परीक्षण संयुक्त राज्य अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, जापान, ताइवान और दक्षिण अफ्रीका सहित देशों में 170 से अधिक साइटों पर आयोजित किया गया था. परीक्षण में शामिल होने वाले लोगों में प्रतिभागियों में कुछ सबसे आम स्वास्थ्य कारकों में मोटापा, मधुमेह, हृदय रोग और 60 वर्ष से अधिक आयु वाले थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.