Delhi Is The Greenest City For Real Estate In India Ranks 63 Globally Says Knight Frank Report – रिपोर्ट: भारत में रियल स्टेट के लिए दिल्ली सबसे हरा शहर, दुनिया में 63वें स्थान पर देश की राजधानी

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: गौरव पाण्डेय
Updated Wed, 29 Sep 2021 06:30 PM IST

सार

रियल स्टेट के लिए भारत में सबसे हरा शहर दिल्ली है, यह दावा एक नए अध्ययन में किया गया है। इस अध्ययन की रिपोर्ट में भारत में सीमा पार रियल स्टेट निवेश को लेकर भी अनुमान जताया गया है। पढ़िए क्या कहती है ये रिपोर्ट

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

संपत्ति सलाहकार (प्रॉपर्टी कन्सल्टेंट) नाइट फ्रैंक की ओर से किए गए एक अध्ययन में भारत में रियल स्टेट के लिए नई दिल्ली को सबसे हरा शहर बताया गया है। इस रिपोर्ट के अनुसार रियल स्टेट के लिए लंदन, शंघाई, न्यूयॉर्क, पेरिस और वाशिंगटन डीसी, दुनिया के शीर्ष सबसे हरे शहर हैं। नाइट फ्रैंक ने एक बयान में कहा कि इस वैश्विक सूची में नई दिल्ली 63वें स्थान पर है वहीं, चेन्नई 224वें, मुंबई 240वें, हैदराबाद 245वें, बंगलूरू 259वें और पुणे 260वें स्थान पर है।

अपने अध्ययन में नाइट फ्रैंक ने दुनिया के 286 शहरों को कई मानकों पर मापा। इन मानकों में अच्छी तरह से विकसित सार्वजनिक परिवहन नेटवर्क, शहरी हरित स्थान और बड़ी संख्या में ग्रीन रेटेड भवन आदि शामिल थे। उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा कि भारत को 2022 में सीमा पार रियल स्टेट से 2.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर निवेश मिलने का अनुमान है। 2022 में सीमा पार रियल एस्टेट निवेश के लिए अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस और नीदरलैंड शीर्ष गंतव्य रहेंगे।

नाइट फ्रैंक इंडिया के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक शिशिर बैजल ने कहा कि हाल के दिनों में रियल स्टेट के क्षेत्र में संरचनात्मक सुधारों की एक श्रृंखला शुरू हुई है। यह हमारे देश के रियल स्टेट क्षेत्र की ओर वैश्विक ध्यान आकर्षित करने में अहम भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में कोरोना वायरस महामारी के परिदृश्य में सुधार के साथ-साथ रियल्टी क्षेत्र में विकास को समर्थन देने के लिए नीतिगत हस्तक्षेप करने से वैश्विक पूंजी को आकर्षित करने में सहायता मिलेगी।

विस्तार

संपत्ति सलाहकार (प्रॉपर्टी कन्सल्टेंट) नाइट फ्रैंक की ओर से किए गए एक अध्ययन में भारत में रियल स्टेट के लिए नई दिल्ली को सबसे हरा शहर बताया गया है। इस रिपोर्ट के अनुसार रियल स्टेट के लिए लंदन, शंघाई, न्यूयॉर्क, पेरिस और वाशिंगटन डीसी, दुनिया के शीर्ष सबसे हरे शहर हैं। नाइट फ्रैंक ने एक बयान में कहा कि इस वैश्विक सूची में नई दिल्ली 63वें स्थान पर है वहीं, चेन्नई 224वें, मुंबई 240वें, हैदराबाद 245वें, बंगलूरू 259वें और पुणे 260वें स्थान पर है।

अपने अध्ययन में नाइट फ्रैंक ने दुनिया के 286 शहरों को कई मानकों पर मापा। इन मानकों में अच्छी तरह से विकसित सार्वजनिक परिवहन नेटवर्क, शहरी हरित स्थान और बड़ी संख्या में ग्रीन रेटेड भवन आदि शामिल थे। उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा कि भारत को 2022 में सीमा पार रियल स्टेट से 2.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर निवेश मिलने का अनुमान है। 2022 में सीमा पार रियल एस्टेट निवेश के लिए अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस और नीदरलैंड शीर्ष गंतव्य रहेंगे।

नाइट फ्रैंक इंडिया के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक शिशिर बैजल ने कहा कि हाल के दिनों में रियल स्टेट के क्षेत्र में संरचनात्मक सुधारों की एक श्रृंखला शुरू हुई है। यह हमारे देश के रियल स्टेट क्षेत्र की ओर वैश्विक ध्यान आकर्षित करने में अहम भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में कोरोना वायरस महामारी के परिदृश्य में सुधार के साथ-साथ रियल्टी क्षेत्र में विकास को समर्थन देने के लिए नीतिगत हस्तक्षेप करने से वैश्विक पूंजी को आकर्षित करने में सहायता मिलेगी।