New Education Policy Was Discussed In The Workshop – कार्यशाला में नई शिक्षा नीति पर हुई चर्चा

ख़बर सुनें

मैनपुरी। सुदिती एजूकेशनल एंड रिसर्च फाउंडेशन के तत्वाधान में सुदिती ग्लोबल एकेडमी में रविवार को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। प्रशिक्षकों ने नए बदलाव के बारे में जानकारी प्रदान की। शिक्षक-शिक्षिकाओं के सवालों के जवाब दिए।
प्रशिक्षिका विनीता सरीन ने बताया कि इस नीति का उद्देश्य शिक्षा संस्थानों में व्यावसायिक शिक्षा के कार्यक्रमों को मुख्यधारा की शिक्षा में शामिल करना है। माध्यमिक विद्यालय, पॉलिटेक्निक कालेजों में स्थानीय उद्योग के साथ स्किल लैब स्थापित किए जाएंगे जो अन्य स्कूलों को सुविधा का उपयोग करने की अनुमति देगा। इसका उद्देश्य स्कूली शिक्षा के सभी स्तरों पर समावेशी और समान गुणवत्ता वाली शिक्षा सुनिश्चित करना है। यह पूर्व- प्राथमिक विद्यालय, प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक से वरिष्ठ माध्यमिक स्तर तक एक निरंतरता के रूप में ’स्कूल’ की परिकल्पना करता है। संस्था के चेयरमैन डॉ. राम मोहन ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कहा कि इस तरह की कार्यशालाएं शिक्षा पद्धति में नया बदलाव लाएंगी। डॉ. कुसुम मोहन ने मार्गदर्शन दिया।

मैनपुरी। सुदिती एजूकेशनल एंड रिसर्च फाउंडेशन के तत्वाधान में सुदिती ग्लोबल एकेडमी में रविवार को नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। प्रशिक्षकों ने नए बदलाव के बारे में जानकारी प्रदान की। शिक्षक-शिक्षिकाओं के सवालों के जवाब दिए।

प्रशिक्षिका विनीता सरीन ने बताया कि इस नीति का उद्देश्य शिक्षा संस्थानों में व्यावसायिक शिक्षा के कार्यक्रमों को मुख्यधारा की शिक्षा में शामिल करना है। माध्यमिक विद्यालय, पॉलिटेक्निक कालेजों में स्थानीय उद्योग के साथ स्किल लैब स्थापित किए जाएंगे जो अन्य स्कूलों को सुविधा का उपयोग करने की अनुमति देगा। इसका उद्देश्य स्कूली शिक्षा के सभी स्तरों पर समावेशी और समान गुणवत्ता वाली शिक्षा सुनिश्चित करना है। यह पूर्व- प्राथमिक विद्यालय, प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक से वरिष्ठ माध्यमिक स्तर तक एक निरंतरता के रूप में ’स्कूल’ की परिकल्पना करता है। संस्था के चेयरमैन डॉ. राम मोहन ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कहा कि इस तरह की कार्यशालाएं शिक्षा पद्धति में नया बदलाव लाएंगी। डॉ. कुसुम मोहन ने मार्गदर्शन दिया।