Pappu Yadav gave advice to Congress said internal coordination between BJP and RJD in Bihar assembly by elections

पटना, जागरण टीम। Bihar Politics: बिहार विधानसभा की दो सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव ने राज्‍य में विपक्षी गठबंधन के दो प्रमुख दलों राजद और कांग्रेस को आमने-सामने ला दिया है। कांग्रेस के हिस्‍से की सीट पर राजद की ओर से उम्‍मीदवार खड़ा किए जाने के बाद दूसरे दलों के नेता भी नसीहत देने लगे हैं। जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्‍पू यादव और हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी ने इस पूरे वाकये पर कांग्रेस को राजद से अलग होने की सलाह दे दी है। मांझी ने इस पूरे प्रकरण को कांग्रेस की बेइज्‍जती बताया है तो पप्‍पू यादव ने कहा कि राजद को अब टिकट बेचने वाले दल से छुटकारा पा लेना चाहिए। उन्‍होंने तो राजद का बीजेपी के साथ अंदरखाने तालमेल होने तक की बात कह दी है।

मांझी बोले- राजद ने कांग्रेस को बता दी है हैसियत

विधानसभा की दो सीटों पर होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस का टिकट काटे जाने को हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी ने बेइज्जती करार दिया है। मांझी ने रविवार को ट्वीट कर कहा कि राजद ने आज एक बार फिर कांग्रेस को उनकी हैसियत बता दी है। अब भी अगर कांग्रेस आलाकमान को राजद नेतृत्व में अपना भविष्य दिखाई देता है, तो दीगर बात है। वैसे आज की बेइज्जती के बाद कांग्रेस नेतृत्व को चाहिए कि अविलंब राजद के साथ गठबंधन तोड़ लें। शायद इससे कुछ लाज बच जाए।

पप्‍पू यादव ने कहा- ठेकेदार, बटमार को बेचते हैं टिकट

पप्‍पू यादव ने बगैर राजद का नाम लिये कहा कि कांग्रेस को अब कठोर फैसला लेना चाहिए और ठेकेदार, बटमार से पैसे लेकर टिकट बेचने वाले दल से छुटकारा पा लेना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि इनका बीजेपी से अंदरखाने का तालमेल है। यह दल ईडी, सीडी, सीबीआइ और आइटी के डर से पीएम का पालतू बना हुआ है। कांग्रेस के फैसले से बिहार को नई दिशा मिलेगी और कई दशक के घुटन से मुक्ति मिलेगी।