planning of buying new car, must read about this shortage | दिवाली में खरीदने की सोच रहे हैं नई कार तो करना पड़ सकता है इतने महीने इंतजार, जानिए FADA के डर की वजह

नई दिल्ली: अगर आप भी आने वाले त्योहारी सीजन में नई कार खरीदने का मन बना रहे हैं तो ये खबर ध्यान से पढ़े क्योंकि दिल्ली समेत देश के कई शहरों में गाड़ियों की डिलीवरी में देरी यानी वेटिंग की खबरें सामने आ रही है. फिलहाल पितृ पक्ष चल रहे हैं इसलिए इसका ज्यादा शोर नहीं है लेकिन नवरात्रि की शुरुआत होते ही गाड़ियों की डिलीवरी का वेटिंग टाइम और बढ़ सकता है.   

डिलीवरी की दिक्कत

दरअसल मनपसंद गाड़ी या  150 सीसी से अधिक की बाइक की डिलीवरी में देरी की वजह ऑटोमोबाइल्स सेक्टर में सेमीकंडक्टर की समस्या है. जो फिलहाल खत्म नहीं हुई है. ऐसे में वो ग्राहक जिन्होंने 2 से 3 महीने पहले बुकिंग कराई है, उन्हें ही गाड़ियों में प्राथमिकता दी जा रही है.

वेटिंग 20 हजार के पार

ऑटोमोबाइल्स सेक्टर के डीलर्स के मुताबिक दिवाली के लिए वेटिंग 20 हजार से पार हो चुकी है. कई ग्राहकों ने अपनी पसंदीदा कार के लिए 5 से 10 लाख तक एडवांस जमा करा दिया है. इसी तरह पसंदीदा बाइक के लिए भी शो-रूम में एडवांस जमा कराकर पहले डिलीवरी लेने की होड़ मची हुई है.

यह पहली बार है जब ऑटोमोबाइल्स सेक्टर में वेटिंग इतनी लंबी हुई है. आमतौर पर नवरात्रि या दिवाली के लिए ग्राहक 10 से 21 हजार रुपए देकर कारों की बुकिंग करा लेते हैं, लेकिन लग्जरी गाड़ियां और एसयूवी के चाह ऐसी है कि डिलीवरी की समस्या की वजह से ग्राहक एडवांस यानि बुकिंग में ही लाखों रुपए जमा करा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- Automobile News: दुनिया में Semi-Conductor Chip की भारी कमी, जानें क्या आप पर भी पड़ेगा असर?

दो से तीन महीने की वेटिंग

सेमीकंडक्टर की समस्या लग्जरी गाड़ियों में ज्यादा आ रही है. डीलर्स के मुताबिक दिवाली के दौरान भी यह समस्या बनी रह सकती है, क्योंकि गाड़ियों में लगने वाले सेमीकंडक्टर का कंसाइनमेंट विदेशों से ही पर्याप्त मात्रा में नहीं आ पा रहा है. हालांकि रेग्युलर मॉडल वाली बाइक और कारों की डिलीवरी में कोई समस्या नहीं है. वहीं कई मॉडलों में 2 से 3 महीने का वेटिंग चल रही है. 

सीजन खराब होने का डर 

इस बीच शो-रूम संचालकों की ओर से त्योहारों के सीजन में सप्लाई बढ़ाने के लिए निर्माता कंपनियों से लगातार बातचीत हो रही है. न्यूज़ एजेंसी ANI की रिपोर्ट के मुताबिक देश में ऑटोमोबाइल क्षेत्र की दिग्गज संस्था फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (FADA) के संचालकों को डर है कि कहीं सेमीकंडक्टर क्राइसिस की वजह से इस बार दीवाली का त्योहारी सीजन खराब न हो जाए. उन्हें इस बात का डर सता रहा है कि लोग इस वेटिंग पीरियड की समस्या की वजह से अपने ऑर्डर कैंसल न करने लगें.