Political – मेरे बयान को भाजपा ने तोड़ मरोड़कर पेश किया: विक्रमादित्य

ख़बर सुनें

शिमला। सरकारी कर्मचारियों को लेकर शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह के बयान पर हुए बवाल के बाद विधायक ने सोशल मीडिया के फेसबुक लाइव के माध्यम से स्थिति स्पष्ट की। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि भाजपा के आईटी सेल ने मेरे बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया है।
भाजपा जितना मर्जी कट, कॉपी और पेस्ट कर ले। कांग्रेस डरने वाली नहीं। उन्होंने इसे ओछी राजनीति बताया और कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है। भाजपा इस तरह बयान को गलत तरीके से पेश कर महंगाई और बेरोजगारी के असल मुद्दों से आम जनता का ध्यान भटकाने का नाकाम प्रयास कर रही है। कांग्रेस की सरकार हमेशा कर्मचारियों , शिक्षकों, प्राध्यापकों के साथ खड़ी रही है। बात चाहे शिक्षकों, कर्मचारियों के अनुबंध काल को कम करने की हो या फिर अलग अलग वर्ग के लिए पॉलिसी बनाने की। कर्मचारी हितैषी फैसले कांग्रेस की सरकारों ने ही लिए हैं। उन्होंने उन चुनिंदा अधिकारियों को चेताया था, जो सरकारी कर्मचारी होने पर भी पार्टी विशेष के पिट्ठू बनकर काम कर रहे हैं।

शिमला। सरकारी कर्मचारियों को लेकर शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह के बयान पर हुए बवाल के बाद विधायक ने सोशल मीडिया के फेसबुक लाइव के माध्यम से स्थिति स्पष्ट की। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि भाजपा के आईटी सेल ने मेरे बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया है।

भाजपा जितना मर्जी कट, कॉपी और पेस्ट कर ले। कांग्रेस डरने वाली नहीं। उन्होंने इसे ओछी राजनीति बताया और कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है। भाजपा इस तरह बयान को गलत तरीके से पेश कर महंगाई और बेरोजगारी के असल मुद्दों से आम जनता का ध्यान भटकाने का नाकाम प्रयास कर रही है। कांग्रेस की सरकार हमेशा कर्मचारियों , शिक्षकों, प्राध्यापकों के साथ खड़ी रही है। बात चाहे शिक्षकों, कर्मचारियों के अनुबंध काल को कम करने की हो या फिर अलग अलग वर्ग के लिए पॉलिसी बनाने की। कर्मचारी हितैषी फैसले कांग्रेस की सरकारों ने ही लिए हैं। उन्होंने उन चुनिंदा अधिकारियों को चेताया था, जो सरकारी कर्मचारी होने पर भी पार्टी विशेष के पिट्ठू बनकर काम कर रहे हैं।