Ragini Music Echoed In Cultural Festival, Speaker Of The Assembly Appreciated – सांस्कृतिक उत्सव में गूंजे रागिनी संगीत, विधानसभा अध्यक्ष ने की सराहना

ख़बर सुनें

पंचकूला। सेक्टर-15 स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में जिला स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव-2021 का आयोजन किया गया। शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित उत्सव में हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे। जिला भर से आए स्कूली बच्चों ने समूह नृत्य व रागिनी संगीत प्रस्तुति दी।
बच्चों की प्रस्तुति देख विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ अन्य गतिविधियों का आयोजन बच्चों का सर्वांगीण विकास करता है और उनकी प्रतिभा को तराशने में भी मददगार साबित होता है। बीते दिन सेक्टर 11/15 चौक पर शहीद भगत सिंह की जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में राजकीय कन्या महाविद्यालय सेक्टर-15 की आरती ने शहीद भगत सिंह का ऐसा बढ़िया चित्र बनाया जो बड़े से बड़ा कलाकार भी नहीं बना सकता। उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चों की प्रतिभा को निखारने की जरूरत है।
गुप्ता ने स्कूल के लिए अपने निजी कोष से 25 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की। बच्चों में छुपी प्रतिभा को बाहर निकालने की जरूरत है, जिस क्षेत्र में बच्चों की रुचि होती है। इसके लिए उन्हें मंच प्रदान करना चाहिए। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी उर्मिल देवी, जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी निरूपमा, डीपीसी संध्या सहित शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी व शिक्षक भी उपस्थित थे।

पंचकूला। सेक्टर-15 स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में जिला स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव-2021 का आयोजन किया गया। शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित उत्सव में हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे। जिला भर से आए स्कूली बच्चों ने समूह नृत्य व रागिनी संगीत प्रस्तुति दी।

बच्चों की प्रस्तुति देख विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ अन्य गतिविधियों का आयोजन बच्चों का सर्वांगीण विकास करता है और उनकी प्रतिभा को तराशने में भी मददगार साबित होता है। बीते दिन सेक्टर 11/15 चौक पर शहीद भगत सिंह की जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में राजकीय कन्या महाविद्यालय सेक्टर-15 की आरती ने शहीद भगत सिंह का ऐसा बढ़िया चित्र बनाया जो बड़े से बड़ा कलाकार भी नहीं बना सकता। उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चों की प्रतिभा को निखारने की जरूरत है।

गुप्ता ने स्कूल के लिए अपने निजी कोष से 25 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की। बच्चों में छुपी प्रतिभा को बाहर निकालने की जरूरत है, जिस क्षेत्र में बच्चों की रुचि होती है। इसके लिए उन्हें मंच प्रदान करना चाहिए। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी उर्मिल देवी, जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी निरूपमा, डीपीसी संध्या सहित शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी व शिक्षक भी उपस्थित थे।