Raisins Is Helpful In Tooth And Gums Problem Know More Benefits

एक शोध के मुताबिक किशमिश खाने से पुरुषों की फर्टिलिटी पावर सुधरती है क्योंकि किशमिश में स्पर्म मोटेलिटी बढ़ाने वाले गुण पाए जाते हैं।

किशमिश एक तरह का ड्राई फ्रूट है, जो खाने में तो बहुत स्वादिष्ट होती ही है, साथ ही यह कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से भी छुटकारा दिलाती है। गुणों से भरपूर किशमिश में प्रोटीन, फाइबर, आयरन, पोटेशियम, कॉपर, विटामिन-बी6 और मैग्नीज समेत सभी तरह के जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि 10-12 किशमिश का नियमित तौर पर सेवन करने से ना सिर्फ हड्डियां मजबूत होती हैं बल्कि पुरुषों में यौन संबंधी समस्याएं भी दूर हो सकती हैं।

वैसे तो आप किशमिश का सीधे भी सेवन किया जा सकता है, लेकिन इसे भिगोकर खाना अधिक फायदेमंद साबित होता है। विशेषज्ञ किशमिश को हमेशा भिगोकर खाने की सलाह देते हैं। इसके लिए 20-30 किशमिश को रात के समय पानी में भिगोकर रख दें, फिर सुबह उठकर उसका खाली पेट सेवन करें।

किशमिश खाने के फायदे:

दांत-मसूड़ों और हड्डियों को बनाए मजबूत: किशमिश में कैल्शियम की अच्छी खासी मात्रा मौजूद होती है, जो दांत-मसूड़ों और हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। बता दें कि 100 ग्राम किशमिश में करीब 50 मिलीग्राम कैल्शियम मौजूद होता है। ऐसे में नियमित तौर पर किशमिश का सेवन करने से दांतों और मसूड़ों की परेशानी नहीं होती।

मेल फर्टिलिटी सुधारने में मददगार: एक शोध के मुताबिक किशमिश खाने से पुरुषों की फर्टिलिटी पावर सुधरती है क्योंकि किशमिश में स्पर्म मोटेलिटी बढ़ाने वाले गुण पाए जाते हैं। इसलिए हेल्थ एक्सपर्ट्स पुरुषों को दूध के साथ किशमिश का सेवन करने की सलाह देते हैं।
ब्लड प्रेशर को करे कंट्रोल: किशमिश में पोटेशियम की अच्छी-खासी मात्रा पाई जाती है, जो शरीर में सोडियम के प्रभाव को कम करता है। इसलिए किशमिश का सेवन करने से ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित रहता है।

पाचन शक्ति को करे दुरुस्त: जो लोग कब्ज और गैस की समस्या से जूझ रहे हैं, उनके लिए भी किशमिश का सेवन करना फायदेमंद साबित हो सकता है। किशमिश में मौजूद फाइबर पाचन की क्रिया को धीमा कर देता है, जिससे कब्ज की समस्या से छुटकारा मिलता है।

किशमिश बढ़ाए रोग-प्रतिरोधक क्षमता: किशमिश इम्यूनिटी को भी बूस्ट करने में मदद करती है। किशमिश में विटामिन बी, सी और एंटीऑक्सीडेंट्स की अच्छी-खासी मात्रा मौजूद होती है, जो शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं।