share market latest update: market capitalization of eight of the top 10 sensex companies declined : सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से आठ कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1.80 लाख करोड़ रुपये घटा

हाइलाइट्स

  • 60 हजार के लेवल तक पहुंच चुका शेयर बाजार पिछले कुछ दिनों से दबाव झेल रहा है
  • हालात ये हैं कि लगातार कई दिनों तक बाजार में गिरावट देखी गई
  • सेंसेक्स की टॉप-10 में से 8 कंपनियों को नुकसान झेलना पड़ा है
  • रिलायंस और एसबीआई को छोड़कर टॉप-10 की बाकी सभी कंपनियों को भारी नुकसान हुआ है

नई दिल्ली
Market Cap Of Top Companies: सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से आठ कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह 1,80,534.34 करोड़ रुपये की गिरावट आई। सबसे अधिक नुकसान में आईटी क्षेत्र की कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इन्फोसिस रहीं। शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में सिर्फ रिलायंस इंडस्ट्रीज और भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के बाजार पूंजीकरण में ही बढ़ोतरी हुई।

बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,282.89 अंक या 2.13 प्रतिशत टूट गया। शुक्रवार को सेंसेक्स में लगातार चौथे कारोबारी सत्र में गिरावट आई। समीक्षाधीन सप्ताह में टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 52,526.53 करोड़ रुपये घटकर 13,79,487.23 करोड़ रुपये रह गया। इन्फोसिस के बाजार मूल्यांकन में 41,782.4 करोड़ रुपये की गिरावट आई और यह 7,06,249.77 करोड़ रुपये पर आ गया। एचडीएफसी की बाजार हैसियत 22,643.11 करोड़ रुपये घटकर 4,90,430.74 करोड़ रुपये पर और आईसीआईसीआई बैंक की 21,095.77 करोड़ रुपये के नुकसान के साथ 4,79,985.13 करोड़ रुपये पर आ गई।

पेपर स्टॉक में अचानक क्यों दिखने लगी है तेजी?

इस दौरान बजाज फाइनेंस का बाजार पूंजीकरण 16,438.9 करोड़ रुपये के नुकसान से 4,54,026.68 करोड़ रुपये रह गया। एचडीएफसी बैंक का मूल्यांकन 10,410.41 करोड़ रुपये टूटकर 8,76,329.45 करोड़ रुपये पर आ गया। सप्ताह के दौरान हिंदुस्तान यूनिलीवर का बाजार पूंजीकरण 9,222.14 करोड़ रुपये घटकर 6,34,977.04 करोड़ रुपये पर और कोटक महिंद्रा बैंक का 6,415.08 करोड़ रुपये के नुकसान से 3,95,563.67 करोड़ रुपये रह गया।

इस रुख के उलट रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 25,294.38 करोड़ रुपये के उछाल से 15,99,346.41 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। भारतीय स्टेट बैंक की बाजार हैसियत में 9,773.33 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई और यह 4,03,169.33 करोड़ रुपये रहा। शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फाइनेंस, एसबीआई और कोटक महिंद्रा बैंक का स्थान रहा।

What is Penny Stocks: भंगार शेयर, जो किसी को मालामाल कर देते हैं तो किसी को कंगाल!