Validity of motor vehicle documents extended till Oct end Details here – Business News India

ड्राइविंग लाइसेंस, पंजीकरण प्रमाण पत्र (RC) और अन्य परमिट की वैधता 31 अक्टूबर, 2021 तक बढ़ा दी गई है। अभी तक इसकी वैधता 30 सितंबर की थी। कहने का मतलब ये है कि गाड़ी से जुड़े जरूरी दस्तावेजों की वैधता खत्म हो गई हो तो आपके लिए सरकार ने एक माह की मोहलत दे दी है। इस अवधि में आप दस्तावेजों को रिन्यू करा सकते हैं। वहीं, इस अवधि में दस्तावेजों की वैधता खत्म होने को लेकर ट्रैफिक पुलिस परेशान नहीं कर सकती है। 

क्यों लिया फैसला: सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के मुताबिक कोविड -19 महामारी की वजह से ये फैसला लिया गया है। ये पहली बार नहीं है जब वैधता बढ़ाई गई है, इससे पहले कई बार केंद्र सरकार ये फैसला ले चुकी है। सबसे पहले मोदी सरकार ने 30 मार्च 2020 को वैधता बढ़ाने का फैसला लिया था। ये वो वक्त था जब देश में लॉकडाउन लागू था। इसके बाद 9 जून 2020, 24 अगस्त 2020, 27 दिसंबर 2020, 26 मार्च 2021, 17 जून 2021 और 30 सितंबर 2021 तक गाड़ियों से जुड़े तमाम दस्तावेजों की वैधता बढ़ाई गई थी। अब एक बार फिर इसे 31 अक्टूबर तक के लिए मौका दिया गया है। 

PPF, सुकन्या जैसी योजनाओं पर आ गया सरकार का फैसला, चेक करें ब्याज दरें

दिल्ली सरकार ने भी दी है मोहलत: इससे पहले, दिल्ली सरकार ने 30 सितंबर को समाप्त होने वाले ड्राइविंग लाइसेंस, पंजीकरण प्रमाण पत्र और अन्य जरूरी दस्तावेजों की वैधता 30 नवंबर तक बढ़ा दी है। दरअसल, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने सभी राज्यों को वाहनों से संबंधित आवश्यक दस्तावेजों की वैधता बढ़ाने का निर्देश दिया था, जिसके बाद दिल्ली सरकार ने यह आदेश जारी किया।